उत्तरप्रदेश

पुलिस हिरासत से हिस्ट्रीशीटर को छुड़ाने वाले बीजेपी नेता पर शिकंजा, पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया और जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित

4th पिलर न्यूज,लखनऊ
कानपुर में पुलिस टीम पर हमला करके हिस्ट्रीशीटर को छुड़ाने वाले बीजेपी नेता नारायण भदौरिया को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। उन्हें जिला मंत्री पद से हटा दिया गया है। इसके साथ ही मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाई गई है। जानकारी के अनुसार हिस्ट्रीशीटर को भगाने के आरोप में 19 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें नौ नामजद और 10 अज्ञात आरोपी शामिल हैं। अभी तक पुलिस एक आरोपी को गिरफ्तार कर चुकी है। जिले के नौबस्ता थाना क्षेत्र में बुधवार को बीजेपी नेता नारायण भदौरिया की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने पुलिस टीम पर हमला कर बर्रा थाने के हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह को भगा दिया था। दरअसल, मनोज, नारायण भदौरिया के जन्मदिन पर बर्थडे पार्टी में शामिल होने आया था। नारायण बीजेपी के दक्षिण जिला मंत्री थे। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमीरपुर रोड जाम कर जमकर हंगामा किया था। इसके साथ ही पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी। घटना के बाद पुलिस ने केस दर्ज करते हुए हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक बर्रा आठ निवासी हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह पेशेवर अपराधी है। मनोज के खिलाफ बर्रा, जूही, बिठूर व नौबस्ता में कई मुकदमे दर्ज हैं। इनमें हत्या का प्रयास, चोरी, लूट, रंगदारी, धमकी, मारपीट समेत 27 आपराधिक मामले शामिल हैं। बुधवार को नौबस्ता पुलिस को सूचना मिली थी मनोज हमीरपुर रोड स्थित आकर्षण गेस्ट हाउस में भाजपा नेता नारायण भदौरिया की बर्थडे पार्टी में आया है। इसी सूचना पर नौबस्ता थाना प्रभारी फोर्स लेकर गेस्टहाउस पर पहुंचे। वहां उन्होंने मनोज सिंह को पकड़ लिया। पुलिस मनोज को जीप में बैठाकर ले जा रही थी कि नारायण भदौलिया ने अपने समर्थकों संग धावा बोल दिया। कार्यकर्ताओं ने जबरन मनोज को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close