राष्ट्रीय

भवानीपुर से उपचुनाव लड़ेंगी सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, विधायक शोभन देव चटर्जी ने दिया इस्तीफा, विधानसभा चुनाव में बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी ने दीदी को दी थी शिकस्त

4th पिलर न्यूज,नई दिल्ली
पश्चिमी बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भवानीपुर से उपचुनाव लड़ सकती हैं। यहां के विधायक शोभन देव चटर्जी ने इस्तीफा देकर मुख्यमंत्री के चुनाव के लिए रास्ता साफ कर दिया है। मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए दीदी को छह महीने के भीतर विधानसभा की सदस्यता लेनी जरूरी है। विधानसभा चुनाव में ममता दीदी नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ी थी और बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी ने उनको हरा दिया था। इस्तीफा देने से पहले शोभन देव ने कहा कि मुख्यमंत्री को छह महीने के भीतर किसी भी विधानसभा सीट से जीत हासिल करनी है। मैं उनकी सीट पर खड़ा हुआ था और जीत गया। मैं विधायक का पद इसलिए छोड़ रहा हूं ताकि वह निष्पक्ष तरीके से चुनाव जीत सकें और मुख्यमंत्री बनी रहें। इससे पहले 2011 में सुब्रत बक्शी ने तृणमूल के टिकट पर चुनाव जीतकर भवानीपुर निर्वाचन क्षेत्र से इस्तीफा दे दिया था। बाद में यहां हुए उपचुनाव में ममता बनर्जी जीत मिली थी। उसके बाद 2016 में भी उन्होंने यहां जीत हासिल की। हालांकि इस बार ममता ने नंदीग्राम चुनाव लड़ा और वहां से उन्हें हार का सामना करना पड़ा। नियम के मुताबिक अनुच्छेद 164 कहता है, ‘एक मंत्री जो लगातार छह महीने तक किसी राज्य के विधानमंडल का सदस्य नहीं होता है, वह इस समय सीमा के खत्म होने के बाद मंत्री नहीं बन सकता। इससे साफ जाहिर है कि ममता दीदी के पास विधायक बनने के लिए छह महीने का समय है। पश्चिम बंगाल में चूंकि विधान परिषद नहीं है ऐसे में ममता बनर्जी को 6 महीने के अंदर किसी खाली सीट से नामांकन दाखिल करना होगा और उपचुनाव जीतकर विधायक बनना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close