उत्तरप्रदेशगाज़ियाबाद

बेटी के हाथ पीले करने के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से मिली सांस, डोली उठने से पहले दुनिया को कह दिया अलविदा

4th पिलर न्यूज,गाजियाबाद
इंदिरापुरम की शिप्रा सनसिटी सोसायटी में ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे एक कोरोना संक्रमित मरीज को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से सांस मिली तो बेटी की शादी की आखिरी इच्छा पूरी हुई। जिंदगी व मौत से जूझ रहे राजकुमार ने बेटी व दामाद को आर्शीवाद देकर आखिरी सांस ली। पिता की आखों के सामने जयमाल की रस्म तो पूरी हो गई, लेकिन पिता की आंखों के सामने होने से बेटी की डोली नहीं उठ सकी। इस घटना ने परिवार के शादी के माहौल को गम में बदल दिया और सोसायटी में भी मातम छाया हुआ है। वॉर्ड 100 के पार्षद संजय सिंह ने बताया कि सोसायटी में रहने वाले राजकुमार के परिवार में बेटा-बेटी व पत्नी थी। काफी समय पहले उनकी दोनों किडनी खराब हो गई थी। उनकी पत्नी ने एक किडनी देकर ट्रांसप्लांट कराया था। इसके बाद भी राजकुमार की स्थिति में सुधार नहीं हो रहा था। बीमार होने के कारण वह अपनी आंखों के सामने बेटी पारुल के हाथ पीले करना चाहते थे। महीने भर पहले ही विजय नगर निवासी एक युवक से शादी तय की दी। 29 अप्रैल की रात में मेंहदी की रस्म थी और शादी की सभी तैयारियां लगभग पूरी हो गई। राजकुमार के शरीर में कोरोना के लक्षण होने के कारण तबियत अचानक खराब हो गई और ऑक्सीजन का स्तर भी गिर गया। जिससे परिवार की खुशियां मातम में बदलने लगी। जब काफी जद्दोजहद के बाद हॉस्पिटल में बेड और ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था नहीं हुई तो सोसायटी में ऑक्सीजन कंसंट्रेट की मदद लेनी पड़ी। परिवार के लोग रातभर हॉस्पिटल में बेड पाने के लिए भटकते रहे।
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से मिली सांस
स्थानीय पार्षद संजय सिंह ने बताया कि राजकुमार को आनन फानन में सोसायटी के क्लब हाउस के बेसमेंट में ले जाया गया, जहां पर कंसंट्रेटर मशीन से उन्हें ऑक्सीजन दिया जाने लगा। परिवार के सदस्यों के साथ सोसायटी की एओए टीम के साथ रातभर राजकुमार को बचाने लिए उनके पास रहे। साथ में उन्होंने एक डॉक्टर और टेक्निशियन की भी व्यवस्था की थी। पार्षद ने वर पक्ष से बातचीत कर लड़के व उनके अभिभावकों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर वाले कक्ष में बुलाया गया। सोसायटी के मंदिर से पुजारी जयमाल लेकर पहुंचे। इसके बात मंत्रोच्चारण के साथ जयमाल हुआ। राजकुमार ने बेटी की शादी देखी और बेटी व दामाद को आशीर्वाद दिया और आखिरी सांस ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close