आस्थागाज़ियाबाद

चर्च में तीसरे दिन पुनर्जीवित हो उठे प्रभु यीशु, मोमबत्ती जलाकर मनाया ईस्टर, फेस मास्क लगाकर प्रार्थना करने पहुंचे लोग

4th पिलर न्यूज,गाजियाबाद
मोहन नगर व इंदिरापुरम चर्च में रविवार सुबह ईस्टर मनाया गया। चर्च में तीन दिन बाद प्रभु यीशु पुनर्जीवित हो उठे तो लोगों ने मोमबत्ती जलाकर ईष्टर मनाया। मोहन नगर चर्च में सुबह करीब साढे़ आठ बजे से प्रार्थना हुई। वहीं, इंदिरापुरम चर्च में प्रभु यीशु के पुनरर्जीवित होने पर मोमबत्ती जलाकर विशेष प्रार्थना हुई। इस दौरान मास्क लगाकर लोग चर्च पहुंचे और प्रभु यीशु को याद किया। इंदिरापुरम चर्च के फादर केवी जॉर्ज और संजय फ्रॉसिंस ने बताया कि प्रभु यीशु सूली पर लटकाए जाने के तीसरे दिन पुनर्जीवित हो गए थे। इसलिए इस दिन को ईस्टर संडे के रूप में मनाया जाता है। प्रभु लोगों को जीवन की शिक्षा देने के लिए आए थे। फादर ने ईस्टर संडे का संदेश भी पढ़कर सुनाया। उन्होंने कहा कि ईस्टर का पर्व नए जीवन और जीवन के बदलाव के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है। ईस्टर संडे से पहले चर्च में मोमबत्तियां जलाकर प्रभु यीशु के प्रति अपना भाव प्रकट किया जाता है। कई जगह पर ईस्टर 40 दिनों तक मनाया जाता है। इस दौरान सभी लोग उपवास, प्रार्थना और प्रायश्चित करते हैं। वहीं, कुछ लोगों ने घर-परिवार व होटल रेस्तरां में जाकर भी ईस्टर मनाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close