दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 72 वें जन्मदिन पर कैंसर को हराने वाली महिलाओं द्वारा फेशन शो का आयोजन

ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन के नेतृत्व में कैंसर को हराने वाली महिलाओं ने किया फेशन शो आयोजन, सशक्तिकरण पर डाला प्रकाश

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 72 वें जन्मदिन पर ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन की ओर से नई दिल्ली के सेंटर फॉर नरेंद्र मोदी स्टडीज इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें सशक्तिकरण में महिलाओं की भूमिका और कैंसर को हराने वाली महिलाओं के लिए हौसला फेशन शो का आयोजन किया गया। जिसमें ऐसी महिलाओं ने हिस्सा लिया, उन्होंने किसी ने किसी स्टेज पर कैंसर को हराकर समाज के लिए एक सकारात्मता का संदेश दिया। इसके साथ ही महिलाओं का सम्मान समारोह भी हुआ। ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन की अध्यक्ष स्नेहा राउत्रे ने कहा कि ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन की भूमिका पर प्रकाश डाला और समाज के भीतर राष्ट्र और समाज के लिए समर्पित संस्था के कार्यो पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन स्वास्थ्य, शिक्षा, आजीविका, अधिकारिता, राहत, पुनर्वास, कला, संस्कृति और कौशल विकास में अखिल भारतीय आधार पर काम कर रहा है। इसमें दिल्ली एनसीआर के अलावा यूपी, बिहार, ओडिशा, झारखंड, पश्चिमी बंगाल, मेघालय आदि देशभर के राज्यों की जरूरतमंद और कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से जूझ रही महिलाओं को लाभान्वित किया जा रहा है। श्रीमती स्नेहा राउत्रे ने कहा कि आजकल महिलाएं पहले से ज्यादा सशक्त हुई हैं और उन्हें समाज के हर कोने और हर व्यक्ति के समर्थन की जरूरत है। उन्होंने सामाजिक, भावनात्मक और वित्तीय पहलुओं के संदर्भ में समाज को सशक्त बनाने में महिलाओं की भूमिका का उल्लेख किया। इसके साथ ही कार्यक्रम को मूर्त रूप देने के लिए अपना समय, ऊर्जा, धन देने के लिए हर व्यक्ति का आभार जताया। इस कार्यक्रम का कैंसर को हरा चुके करीब 300 लोग सफल संचालन करते हैं। आयोजन में सेंटर फॉर नरेंद्र मोदी स्टडीज के चेयरमैन प्रोफेसर जसीम मोहम्मद, डॉ मीनू वालिया, सीनियर डायरेक्टर और एचओडी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी मैक्स हॉस्पिटल कम पैटर्न स्नेह फाउंडेशन, अरिहंत चैरिटेबल एजुकेशन ट्रस्ट से डॉ अलका अग्रवाल, अखिल भारतीय महिला अधिकारिता पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ नोहेरा शेख, वीमेनोवेटर की संस्थापक तृप्ति सिंघल सोमानी, सफदरजंग अस्पताल से डॉ अनीता खोखर, डॉ लता स्वतंत्र निदेशक, भारी उद्योग मंत्रालय भारत सरकार ने अपने विचार व्यक्त किए। समाज के लोगों से अपील करते हुए कहा कि कैंसर से पीड़ित महिलाओं को सकारात्मकता के नजरिए से देखें और इस गंभीर बीमारी के प्रति जो नकारात्मकता है उसके लिए कैंसर को हरा चुकी महिलाओं से प्रेरणा अवश्य लेनी चाहिए। श्रीमती स्नेहा राउत्रे ने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए सभी आंगुतकों का आभार जताया।

Related Articles

Close