गाज़ियाबाद

शहर के स्कूल-कॉलेजों में रंगारंग कार्यक्रम व संगोष्ठी, बच्चों को बताया हिंदी का महत्व

गाजियाबाद। शहर के स्कूल-कॉलेजों में हिंदी दिवस के अवसर पर संगोष्ठी, रंगारंग कार्यक्रमों तथा विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। जहां हिंदी को बढ़ावा देने सहित हिंदी के अस्तित्व पर गहनता से चर्चा की गई। जिले के स्कूलों में बुधवार को हिन्दी हमारी शान है, हिंदी हमारा अभिमान है, हिंदी हमारी मातृभाषा है के नारे और कविताएं सुनाई गईं। बुधवार को हिंदी दिवसर पर स्कूल-कॉलेजों में छात्रों को हिंदी का महत्व बताया। सिल्वर लाइन प्रेस्टीज स्कूल में छात्रों ने हिन्दी दिवस पर आधारित कविताओं, दोहों एवं नारों पर आधारित रंग-बिरंगे पोस्टर बनाए। प्रधानाचार्या डॉ. माला कपूर ने कहा कि हिन्दी ने हमें एक नई पहचान दिलाई है। यह संपूर्ण विश्व में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाओं में से एक है। हिन्दी विश्व की सबसे प्राचीन, सरल और समृद्ध भाषा मानी जाती है। उन्होंने कहा कि हिन्दी हर हिंदुस्तानी की पहचान के साथ एकता की अनुपम परंपरा है। श्री ठाकुरद्वारा बालिका स्कूल में हिंदी भाषा को प्रोत्साहित करते हुए नुक्कड़ नाटक, नृत्य, हास्य कविताएं, वाद-विवाद प्रतियोगिताएं और मुहावरों के जरिए हिंदी में अकबर-बीरबल का नाटक पेश किया। विद्यालय के मैनेजर अजय गोयल तथा प्रधानाचार्या ने सभी छात्राओं को हिंदी को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया। केडीबी विद्यालय मंर छात्रों ने हिंदी भाषा की गरिमा एवं उसके महत्व को कविता नाटक भाषण, पहेलियां, भाषिक ज्ञान, समूह गान के माध्यम से प्रस्तुत किया। इसके साथ हिंदी की जननी संस्कृत भाषा से संबंधित कई कार्यक्रम नृत्य-नाटिका, कविता भाषण भी कराए गए। विद्यालय की प्रधानाचार्या निवेदिता राणा ने हिंदी के शुद्ध उच्चारण एवं लेखन पर बल दिया। इंटीग्रेटेड स्कूल ऑफ एजुकेशन में कविता पाठ का आयोजन किया, जिसमें छात्रों ने विभिन्न गतिविधियों तथा कविताओं के माध्यम से हिन्दी के महत्व का वर्णन किया। बीएड प्राचार्या डॉ अनन्ता शर्मा ने हिन्दी दिवस के महत्व को बताया। वहीं, पैरामाउंट लिटिल ऐंजल्स स्कूल में छोटे बच्चों के लिए कविता वाचन, स्वर, व्यंजन, मात्राओं के ज्ञान सम्बन्धित गतिविधियां और सुलेख प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें अर्चना, शुभांगनी, दक्ष, प्रीशा, निधि, सना, आलिया, सोनाक्षी, एलन, अदिति, चिंकी, प्रेरणा, माही, जिया, उत्कर्ष को पुरस्कृत किया। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विद्यावती मुकुन्दलाल कॉलेज में दो दिवसीय कार्यक्रम में निबंध प्रतियोगिता, स्लोगन प्रतियोगिता एवं पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 60 छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

Related Articles

Close