उत्तरप्रदेशहरियाणा

हाथरस कांड में फंसे युवाओं के परिवार के सामने भूखे मरने की नौबत, क्षत्रिय राजपूत एकता मंच हरियाणा बना देवदूत, मदद के लिए पीड़ित परिवार को सौंपा एक लाख रुपए का चेक

4th पिलर न्यूज,करनाल/हाथरस
यूपी के हाथरस कांड में फंसे युवाओं के परिवार वालों के सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है। परिवार के जो युवा मेहनत-मजूदरी कर किसी तरह परिवार की गुजर-बसर करते थे वे सब जेल में हैं। ऐसे में परिवार में कोई कमाने वाला सदस्य नहीं है। विपता की इस घड़ी में पीड़ित परिवार की मदद के लिए क्षत्रिय राजपूत एकता मंच हरियाणा देवदूत बनकर सामने आया है। संरक्षक बलवीर सिंह चौहान के नेतृत्व में राजपूत एकता मंच का एक प्रतिनिधि मंडल हाथरस के बूलगढ़ी पहुंचा। जहां पर प्रोपर्टी डीलर ठाकुर देवेंद्र सिंह तोमर के कार्यालय पर पीड़ित परिवार को एक लाख की रुपए की धनराशि का चेक सौंपा। यह संगठन हरियाणा के करनाल से करीब 700 किमी का सफर तय कर पीड़ित परिवार की मदद के लिए हाथरस पहुंचा था। संरक्षक बलवीर सिंह चौहान ने कहा कि हाथरस कांड में क्षत्रिय युवाओं को गलत तरीके से फंसाया गया है। तमाम एजेंसी इस मामले की जांच कर रही हैं। उम्मीद है कि एक दिन पीड़ित परिवार को न्याय अवश्य मिलेगा। इस मौके पर डॉक्टर सुनील राणा प्रधान, बृजपाल सिंह राणा उपप्रधान राजौंद, कुलदीप सिंह राणा बिघाना कार्यकारी महासचिव मौजूद रहे। वहीं,अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा हाथरस के अध्यक्ष जोगिंदर सिंह और उनकी हाथरस कार्यकारिणी के तमाम पदाधिकारियों ने भी सहयोग किया।

Related Articles

Close